हे गंगे तुम अब थम जाओ

अविरल भाव से बहती हो, सब पवित्र कर देती हो किंतु तुम अब थम जाओ, विनय है तुमसे थम जाओ गंगोत्री से गंगा सागर तक, मानव ने तुम्हे दुषित किया माँ माँ कह कर बार बार, सिर्फ तुम्हे शोषित किया हे माँ तुम हो परमज्ञानी, अब और ना बातो में आओ हे गंगे तुम थमContinue reading “हे गंगे तुम अब थम जाओ”

मदर्स डे

#mothersday2022 #hindipoetry #loveyoumom सारा साल ना पूछा माँ कोना कभी प्यार से गले लगायादुनिया का दिखावा तो देखोमदर्स डे का मैसेज सबने चिपकाया सच में प्यार करो जो माँ कोसिर्फ मुस्कुरा कर बात करोगोदी में कभी सिर रख करबच्चा बन कर बात करो कोई मंदिर मस्जिद गिरिजाघरमाँ से ज्यादा न दे सकता हैइन इमारतों कीContinue reading “मदर्स डे”

हौंसला तो रख लिया है

हौंसला तो रख लिया हैदिल भी पक्का कर लिया हैसमझाया है खुद को बहुतगीली आंखों को ढक लिया हैसमझ चुका हूं भगवान की मर्जीउसी को अपनी कर लिया है टीवी भी चल चुका है अबशोर भी सब और हैफिर भी एक शून्य नेमुझमें घर कर लिया है आपको भूलें इतनी कमजोर नींव नहीं हमारीमुस्कुरा करContinue reading “हौंसला तो रख लिया है”

पिता – तस्वीर बन गए हो मेरी तकदीर बनाने वाले

तस्वीर बन गए हो मेरी तकदीर बनाने वालेटूकर टूकर देखते हो बिन बात के फोन में रम जाने वाले खोया नही मेरा टुकड़ा की मैं ढूंढ पाऊं जिसेमैं खुद उनका टुकड़ा हूं कहां से लाऊं मुझे ढूंढ लाने वाले छत उड़ी हो जैसे अब धूप बिजली बारिश सब लगती हैअचानक कहां गए आशीषो का छप्परContinue reading “पिता – तस्वीर बन गए हो मेरी तकदीर बनाने वाले”

चांद

हे चांद, तू सच में इतना सुंदर है?या मेकअप करके आता हैसच बता चांदनी को तू किस तरह पटाता है ऐसा कैसे वो तेरे हमेशा आसपास रहती हैक्यूं ऐस लगाता है तू उसके आगोश में सिमटता जाता है ये तुम्हारा प्यार है या चांदनी का शकऐसे कैसे तू अकेला कभी नही निकल पाता है कभीContinue reading “चांद”

तोंद 😂

वो छोटी सी प्यारी सी लाडो से पालीदुनिया से बचाकर बहुत संभालीआंखों का लालच, जुबान का रससंभाला तुझे प्यार से उम्र भरझांकती वो बाहर गाहे बगाहेना समझती जमाना बैठा आंखे गड़ायेतुझे पालने की रईसी अलग हैतेरे पीछे चलने की शान कड़क हैतू हर कपड़े को नई शेप है देतीस्वामी से कुछ इंच आगे ही रहतीतूContinue reading “तोंद 😂”

किसी की कलम

मेरा दुख लिखो तो जानूंगीतुम्हारी कलम क्या कह सकेगी मुझेबताती है जो अपने खुदगर्ज ख्यालमुझे बता सको तो मानूंगी आज दिल कुछ ज्यादा धड़क रहा हैलगता है फिर से प्यार उमड़ रहा हैहम तो सुनते थे बस एकबार होता हैक्या वो फिर से मेरी गली से गुजर रहा है?टकरा गए उनसे कई बार अचांचकऐ खुदाContinue reading “किसी की कलम”

दरवाजे

दरवाजे खुले रखे है तेरे आने के लिएबहुत कुछ बचा रखा है लुटाने के लिएपुराने खत, वो रूमाल और तस्वीरें छोड़ जानाकुछ बहाना तो बचे तेरे लोट कर आने के लिएचलो वो भी ले जाना, खत्म करो ये किस्साक्यों छोड़े अब कुछ और फिर पछताने के लिए ———–_——/ माना की अब हम दोस्त नहींफिर भीContinue reading “दरवाजे”

परी सी लड़की

वो काफी हाउस की पीछे की कुर्सीवो बालो से खेलती पागल सी लड़कीलंबी सी गोरी सी अख्खड़ सी लड़कीवो बिन बात के हस्ती लड़ती सी लड़कीवो इंग्लिश के लहजे में हिंदी सी लड़कीवो उड़ती फुदकती कबूतर सी लड़कीवो गहरे ख्यालों में उलझी सी लड़कीवो गर्मी की धूप में कुल्फी सी लड़कीवो सर्दी में चाय कीContinue reading “परी सी लड़की”

Ukrain Russia war

My views on Ukrain Russia war and reaction of rest of the world My views on Ukrain Russia war and reaction of rest of the world — — — — खोखलापन फिर नजर आया उस पहलवान कादेख दंगल परिचय दिया फिर से कायरता काना हो सका उससे फैसला डूबते दोस्त की जान का कुछ अमीरोंContinue reading “Ukrain Russia war”